Hi! Welcome to Garhshankar!

Thanks for dropping by! Feel free to join the discussion by leaving comments, and stay updated by subscribing to the RSS feed. See ya around!

MORE

Latest

What is going on

वो देता है दर्द …

April 18, 2014

वो देता है दर्द बस हमी को; क्या समझेगा वो इन आँखों की नमी को; लाखों दीवाने हों जिस के; […]

READ MORE -

April 15, 2014

जो बात दिल में है उसे बोलने की हिम्मत रखो और जो बात किसी के दिल में है उसको समझने […]

READ MORE -

दुआ मांगी थी …

February 8, 2014

दुआ मांगी थी आशियाने की; चल पड़ी आँधियाँ ज़माने की; मेरा दर्द कोई नहीं समझ पाया; क्योंकि मेरी आदत थी […]

READ MORE -

Log Kya Kahenge

December 24, 2013

“Log Kya Kahenge” has killed more dreams than anything else in the world!

READ MORE -

नजरों से …

October 9, 2013

नजरों से नजरों का टकराव होता है; हर मोड़पर किसी का इंतज़ार होता है; दिल रोता है जख्म हँसते हैं; […]

READ MORE -